हिंदी शायरी २ लाइन में – इक ख़त कमीज़ में उसके

इक ख़त कमीज़ में उसके नाम का क्या रखा,
क़रीब से गुज़रा हर शख्स पूछता है कौन सा इत्र है जनाब।।