नयी दर्द भरी शायरी – चेहरे पर सुकून तो बस

चेहरे पर सुकून तो बस दिखाने भर का है..
वरना बेचैन तो दिल जमाने भर का है…!..